“फियोना आयुर्वेद” के लाभ

स्वास्थ्य और रोग व्यक्ति के जीवन के विभिन्न पहलुओं का अंग हैं जैसे पोषण,पेक्षा,मानसिक अभिवृत्ति,परिवार एवं सामाजिक गतिविधियाँ तथा आध्यात्मिक जीवन । यदि एक क्षेत्र कमजोर पड़ता है तो समस्त क्षेत्र ही प्रभावित होते हैं । अच्छा स्वास्थ्य पाने और बनाए रखने के लिए, हमें खुद का ख्याल रखना होगा तथा इन समस्त पहलुओं को संतुलित रखना होगा, यहि आयुर्वेद का मूल मंत्र है । लोग नियमित रूप से सर्दी-जुकाम,मधुमेह,बवासीर,दमा,पेट की समस्या,कोष्टबद्धता, त्वचा एवं बालों की समस्या तथा कई अन्य आंतरिक एवं वाह्य शारीरिक समस्याओं से जूझते हैं । समुचित आहार विहार की कमी तथा असामान्य जीवन शैली के कारण मनुष्य में ये समस्याएँ पैदा होती हैं।

मैं आश्वस्त हूँ कि शरीर की प्रक्रिया में विभिन्न प्रकार की विकृतियाँ पैदा करने वाले निम्नलिखित तथ्यों से हम सब सब सहमत होंगे। अतः,आजकल मनुष्य में जो भी विकृतियाँ या रही हैं वो सब उसकी अपनी गलती के कारण तथा चिकित्सा के लिए आधुनिक औषधियों पर उसका विश्वास है, वह यह नहीं समझ पाता कि ये औषधियाँ उसके आंतरिक अंग और रोग प्रतिरोधी क्षमता को प्रभावित कर सकते है

  • शरीर भोजन नहीं माँगता है तब भी लोग खाते हैं ।
  • खाद्य अभिविन्यास शरीर के अंगों को प्रभावित करती है
  • विभिन्न खनिजों,विटामिन,कार्बोहाइड्रेट का अनुचित सेवन
  • समुचित मात्रा में पानी का सेवन न करना

चूंकि हम इन स्वास्थ्य समस्याओं से नियमित रूप से जूझते हैं, बाजार में उपलब्ध अन्य पारंपरिक प्रतियोगी जो केवल रोग प्रतिरोधक क्षमता वाले उत्पाद बनाते हैं उनकी तुलना में फियोना हर्बल्स ने “फियोना आयुर्वेद” का निर्माण किया है जिसमें इन स्वास्थ्य समस्याओं से रोग निरामय करने की क्षमता वाले कई उत्पाद बनाया है।

  • फियोना आयुर्वेद सुरक्षित है । फियोना आयुर्वेद के उत्पाद पदम एवं खनिजों से निष्काषित सूक्ष्म कणों के आसव से बने होते हैं । इन्हें काफी सूक्ष्म मात्रा में दिया जाता है अतः वे विषाक्त नहीं होते और काफी सुरक्षित होते हैं । एंटीबायोटिक और अन्य औषधियों के विपरीत,फियोना आयुर्वेद के उत्पादों से पाचन में कोई समस्या नहीं होती; रोग प्रतिरोधक क्षमता में किसी प्रकार की कमी नहीं आती; किसी प्रकार की एलर्जी नहीं होती तथा यदि किसी योग्य चिकित्सक के परमर्श पर लंबी अवधि तक सेवन किया जाए तो भी सुरक्षित होता है ।
  • फियोना आयुर्वेद के उत्पाद प्रभावी तथा द्रुत गति से काम करने वाले तथा अधिकतम स्वास्थ्य लाभ देने वाले होते हैं।
  • फियोना आयुर्वेद के उत्पाद प्राकृतिक औषधि होते हैं। फियोना आयुर्वेद प्रकृति के रोग निवारक सिद्धांत पर आधारित है।
  • फियोना आयुर्वेद रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित करने में सहायटा करता है । यह रोग को जड़ से मिटाता है ।
  • फियोना आयुर्वेद के उत्पाद हर उम्र वर्ग के लोगों के लिए है । ये उत्पाद सबके लिए सुरक्षित होते हैं क्योंकि इससे किसी प्रकार की विषाक्तता या किसी प्रकार का पश्च प्रभाव नहीं पड़ता । फियोना आयुर्वेद गर्भावस्था सहित स्तनपान कराने वाली महिलाओं तक के लिए सर्वथा उपयुक्त है ।

फियोना हर्बल्स के प्रबंध के प्रबंध निदेशक डॉ. समीर कुमार धाड़ा से एक संक्षिप्त चर्चा के दौरान, उन्होंने कहा- “अन्य कंपनियों के विपरीत,जो अपना उत्पाद बनाने के लिए विभिन्न बनस्पतियों के चूर्ण का प्रयोग करते हैं तथा खतरनाक वस्तुओं के सम्मिश्रण के उत्पादों का प्रचार भी करते हैं,नए युग के ये फियोना आयुर्वेद के उत्पाद अर्क आधारित(100% जड़ी-बूटी युक्त) तथा आसानी से लिए जा सकने लायक होते हैं तथा किसी बीमारी द्रुत गति से रोग निवारण के उपयुक्त होते हैं तथा इनसे किसी प्रकार का या शून्य नुकसान होता है। .

ये उत्पाद जड़ी-बूटी से बने होते हैं,इन्हें नियमित प्रयोग में लाया जा सकता है, तथा प्रयोग के बाद बेहतर परिणाम हो इसके लिए ये विविध तथा समुचित अनुपात में मिश्रित होते हैं । फियोना आयुर्वेद के इन नए उत्पादों के निर्माण में अदरख,नींबू एवं तुलसी जैसे घरेलू बूटियों से लेकर उच्च गुणों वाले जड़ी बूटियों का इसके उत्पादों में सम्मिश्रण होता है ।

रोग निवारक उच्च गुणों वाले इन उत्पादों में यकृत,वृक्क,पेट,मधुमेह,दमा,त्वचा सहित अन्य बीमारियाँ ठीक करनी का गुण होता है । केवल रोग प्रतिरोधक क्षमता वाले अन्य उत्पादों की तुलना में इसमे उत्पादों के असंख्य लाभकारी गुण हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *